क्लोनिंग(Cloning)क्या है? क्लोनिंग के लाभ-हानि

क्लोनिंग क्या है(What is Cloning) –

क्लोनिंग(Cloning) का सामान्य अर्थ हमशक्ल तैयार करना! क्लोन एक ऐसी जैविक रचना है जो एकमात्र जनक(माता/पिता) से अलैंगिक विधि द्वारा उत्पन्न होती है! उत्पादित क्लोन अपने जनक से शारीरिक और अनुवांशिक रूप से पूर्णत: समरूप होता है! अतः किसी भी जीव का प्रतिरूप तैयार करना ही क्लोनिंग है! 

क्लोन का अर्थ टि्वन या समरूप होता है! क्लोन एक ऑर्गेनिज्म है, जो एकमात्र जनक से गैर-लैगिंक विधि से उत्पादित होता है! क्लोन अपने जनक से बौद्धिक एवं अनुवांशिक रूप से बिल्कुल समान होता है! क्लोनिंग में नाभिक स्थानांतरण तकनीक द्वारा केंद्रक रहित डिम्ब में समाविष्ट कर समरूप क्लोन प्राप्त किए जाते हैं! इस तकनीक के अंतर्गत प्रायः नाभिकीय अंतरण विधि का प्रयोग किया जाता है! 

कृषि और बागवानी के क्षेत्र में क्लोनिंग की प्रक्रिया प्राचीन काल से ही चली आ रही है परंतु जंतुओं के निर्माण में क्लोनिंग का उपयोग हाल के वर्षों में होने लगा है!

क्लोनिंग के लाभ(Benefits of Cloning)- 

(1) क्लोनिंग की सहायता से विशेषता को एवं अंगों का निर्माण कार्य की असाध्य एवं अनुवांशिक बीमारियों को दूर किया जा सकता है जो परंपरागत चिकित्सा पद्धतियों से ठीक नहीं हो सकती! 

(2) आणविक क्लोनिंग के उपयोग से अनेक मानव उपयोगी प्रोटीन जैसे – इंसुलिन आदि का निर्माण किया जा रहा है! 

(3) जेनोट्रांसप्लांटेशन की सफलता को देखते हुए अंग प्रत्यारोपण के क्षेत्र में क्लोनिंग क्रांति ला सकती है! 

(4) कैंसर के उपचार में क्लोनिंग का महत्व है क्योंकि कैंसर में कोशिकाएं विभाजित होने लगती हैं इसमें से कुछ कोशिका तो पूरा पुनरचित हो जाती है किंतु अन्य नहीं! 

(5)  क्लोनिंग के द्वारा विशेष प्रकार की वनस्पतियों एवं जीवों का क्लोन बनाया जा सकता है, जिससे महत्वपूर्ण औषधियों का निर्माण तथा जैव विविधता का भी संरक्षण किया जा सके! 

क्लोनिंग के नुकसान (disadvantages of cloning)- 

(1) वर्तमान समाजिक संरचना जैसे – परिवारिक संस्था प्रभावित होगी, क्योंकि क्लोनिंग के लिए एकल जनक ही उत्तरदाई होता है! 

(2) क्लोनिंग द्वारा उत्पन्न बच्चे और सेरोगेट मां में क्या रिश्ता होगा, इसका निर्धारण करना मुश्किल होगा! 

(3) क्लोनिंग से बड़े पैमाने पर भ्रूण हत्या होगी, क्योंकि इसमें सफलता का प्रतिशत बहुत कम है! 

(4) मानव अंगों के व्यापार होने की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता, परंतु वर्तमान में मानव क्लोनिंग को विश्व में प्रतिबंधित किया गया है

(5) मानव क्लोन से अपराध बढ़ने की आशंका है क्लोन सैनिक तैयार कर पुनः विकसित एवं धनी देश साम्राज्यवाद व उपनिवेशवाद की अवधारणा को जीवित कर सकते हैं! 

(6) इसका उपयोग वैश्विक आतंकवाद के लिए में मानव बम के रूप में किया जा सकता है! 

इन्हें भी पढ़ें –

नेटवर्क टोपोलॉजी Network Topology In Hindi

क्लाउड कंप्यूटिंग Cloud computing in hindi

Computer Network In Hindi

Leave a Comment

error: Content is protected !!