विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) क्या है? विश्व स्वास्थ्य संगठन के उद्देश्य, कार्य, संरचना

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organizations or WHO in hindi) –

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को की गई थी! यह संयुक्त राष्ट्र संघ की एक अनुषांगिक इकाई है! डब्ल्यूएचओ में 193 सदस्य तथा दो संबंद्ध सदस्य है! इसका मुख्यालय जेनेवा (स्विट्जरलैंड) में है! भारत में इसका मुख्यालय दिल्ली में है! 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है! 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के उद्देश्य या लक्ष्य (Objectives or goals of the WHO in hindi) – 

vishva swasthya sangathan ki sthapna ke uddeshya इस प्रकार हैं –

डब्ल्यूएचओ का लक्ष्य सभी लोगों के लिए स्वास्थ्य के उच्चतम संभाग स्तर की प्राप्ति में सहायता प्रदान करना है! डब्ल्यूएचओ अंतरिम स्वास्थ्य कार्यो से संबंधित तक समंवयकारी प्राधिकरण के रूप में कार्य करता है तथा स्वास्थ्य मौसम में सक्रिय सहयोग को प्रोत्साहित करता है! 

इसके कार्यक्रमों में स्वास्थ्य सेवाओं का विकास, रोग निवारण व नियंत्रण, पर्यावरणीय स्वास्थ्य का संवर्धन, स्वस्थ मानव शक्ति विकास तथा जैव चिकित्सा, स्वास्थ्य सेवाओं, शोध व स्वास्थ्य कार्यक्रमों का विकास एवं प्रोत्साहन शामिल है! 

डब्ल्यूएचओ सदस्य देशों को उन स्वास्थ्य सेवाओं के देखभाल करना, मातृ एवं बाल स्वास्थ्य को संवर्धित करना, परिवार नियोजन, पोषण, स्वास्थ्य शिक्षा, व स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, स्वच्छ जलापूर्ति, गुणवत्ता, नियंत्रण तथा शोध प्रोत्साहन इत्यादि होता है! 

संगठन स्वास्थ्य आंकड़ों का संग्रहण, विश्लेषण एवं वितरण में भी सहयोग करता है तथा रोग लक्षणों बीमारियों व उपचारों के संबंध में तुलनात्मक अध्ययन को आयोजित करता है! 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के कार्य (vishwa swasthya sangathan ke karya) –

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख कार्य (vishva swasthya sangathan ke karya) इस प्रकार हैं –

(1) अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संबंधी कार्यों पर निर्देशक एवं समन्वय प्राधिकरण के रूप में कार्य करना! 

(2) ऐसे वैज्ञानिक और पेशेवर समूहों के मध्य सहयोग को बढ़ावा देना, जो स्वास्थ्य की प्रगति के क्षेत्र में योगदान करते हैं! 

(3) सरकारों के अनुरोध पर स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए सहयोग प्रदान करना! 

(4) विश्व में कुपोषण की समस्या से ग्रस्त देशों विशेषकर विकासशील देशों में उचित पोषण की उपलब्धता सुनिश्चित करना! 

(5) यह रोगी को अंतरराष्ट्रीय नामावली के समय क्षेत्र व संशोधित करता है तथा खाद्य एवं पेय पदार्थों के अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण को विकसित एवं प्रोत्साहित करता है! 

(6) संयुक्त राष्ट्र के साथ विशेष एजेंसियों, सरकारी स्वास्थ्य प्रशासन, पेशेवर समूहों और ऐसे अन्य संगठनों को जो स्वास्थ्य के क्षेत्र में अग्रणी हैं, के साथ प्रभावी सहयोग स्थापित करना एवं उसे बनाए रखना! 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (who) की संरचना (Structure of the WHO in hindi) –

इस संगठन के प्रमुख अंगो में विश्व स्वास्थ्य सभा, कार्यकारी बोर्ड, क्षेत्रीय समितियां तथा सचिवालय सम्मिलित है! who ki sanrachna इस प्रकार हैं –

(1) विश्व स्वास्थ्य सभा (vishwa swasthya sabha) – 

विश्व स्वास्थ्य सभा सदस्य राष्ट्रों का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रतिनिधियों से बनी होती है! प्रत्येक सदस्य का प्रतिनिधित्व अधिकतम 3 प्रतिनिधि द्वारा किया जाता है इनमें से किसी एक को मुख्य प्रतिनिधि के रूप में नामित किया हैं! 

इन प्रतिनिधियों को स्वास्थ्य के क्षेत्र में उनकी तकनीकी क्षमता के आधार पर सबसे योग्य व्यक्तियों में से चुना जाता है, क्योंकि यह सदस्य राष्ट्र के राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रशासन का अधिमान्य प्रतिनिधित्व करते हैं! 

(2) सचिवालय – 

सचिवालय का प्रमुख एक महान निर्देशक होता है, जिसकी सहायता के लिए एक उप महानिर्देशक एवं कई सहायक महानिदेशक होते हैं! यूएन के सदस्य इस संगठन के सदस्य बन सकते हैं! 

(3) क्षेत्रीय समितियां – 

WHO एक अल्प केंद्रीकृत संगठन है! इसके कार्यक्रम छह क्षेत्रीय संगठन द्वारा लागू किए जाते हैं, जिनमें प्रत्येक का प्रमुख एक निर्देशक होता है! 

Leave a Comment

error: Content is protected !!